हमसफ़र

हमने भी चाहा था की हमें प्यार हो जाए,
कोई एक, बस एक, मेरा संसार हो जाए,
तनहा सा लग रहा, ये जिंदगी का सफर,
इस सफर का कोई साझेदार हो जाए,
अब इंतजार है तो बस, उस हमसफ़र का,
जिसके साथ हर पल, एक त्यौहार हो जाए।

Advertisements